महिलाओं के लिए योजना – CM योगी की पांच योजनाएं (उत्‍तर प्रदेश)

By | July 6, 2020

महिलाओं के लिए योजना – CM योगी की पांच योजनाएं (उत्‍तर प्रदेश), up cm scheme, scheme for up female

महिलाओं के लिए योजना

महिलाओं के लिए CM योगी की पांच योजनाएं : यूपी सरकार ने महिलाओं को लाभ प्रदान करने के लिए अनेक योजनाएं चलाई गई हैं। जिससे महिलाओं को नौकरी करने व अपना स्‍वयं का उद्योग खोलने में फायदा मिल सकेगा। योगी द्वारा शुरू की गई ये योजनाएं महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत व आत्‍म निर्भर बनाएंगी। ये सब योजनाएं महिलाओं के उत्‍थान के‍ लिए शुरू की गई हैं। ताकि वे स्‍वयं को किसी दूसरे पर आश्रित ना समझे।

इन योजनाओं के बारे में हम आपकाे इस आर्टिकल में सरल भाषा में बताएंगे।

महिलाओं के लिए CM योगी की पांच योजनाएं

योगी द्वारा उत्‍तर प्रदेश में महिलाओं के लिए चलाई गई इन पांच योजनाओं के बारे में हम विस्‍तार से जानेगे। ये पांच योजनाएं निम्‍नलि‍खित हैं : –

मुखबिर योजना

इस योजना को चलाने का मुख्‍य उद्देश्‍य कन्‍या भ्रूण हत्‍या को रोकना व महिलाओं के जन्‍म को बढावा देना है। इस मुखबिर योजना को सशक्तिकरण मिशन के तहत शुरू किया गया है। इस योजना में लाभ लेने या शिकायत दर्ज करने के लिए हेल्‍पलाइन नंबर 181 दिया गया है। इसके अर्न्‍तगत 64 रेस्‍क्‍यूवेन उपलब्‍ध कराई गयी है। इसके साथ ही महिला एवं बाल विकास कल्‍याण विभाग मंत्रालय ने भी हेल्‍प लाइन नंबर 181 जारी किये हैं। आशा ज्‍योति केन्‍द्र को 11 से बढाकर 75 जिलों मे आवंटित किया गया है। इस योजना में घरेलु हिंसा से पीडित महिलाएं मदद मांग सकती हैं तथा इसके साथ भ्रूण हत्‍या की सूचना देने वाले को 10 हजार से 2 लाख तक का ईनाम देने की घोषणा की है।

निराश्रित पेंशन योजना

यह योजना यूपी सरकार द्वारा सभी विधवा महिलाओं के लिए चलाई गई है। इसमें विधवा निराश्रित महिलाओं को प्रथम चरण में 500 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। निराश्रित पेंशन योजना में महिला के पति की मृत्‍यु के बाद यदि उसका पुर्नविवाह होता है तो उसे 51 हजार रुपये प्रदान किये जाते हैं जो कि पहले 11000 रुपये थे। इस योजना के तहत ही दहेज पीडित महिलाओं को 125 रुपये प्रतिमाह आर्थिक सहायता को बढाकर 500 रुपये किये गये हैं। दहेज पीडित महिलाओं को कानूनी सहायता के रूप में दी जाने वाली 2500 रुपये की आर्थिक सहायता को बढाकर 10,000 रुपये की जाने के बात कि गयी है।

सामुहिक विवाह योजना

इस सामुहिक विवाह योजना के तहत गरीब मुस्लिम लडकियाें का विवाह कराया जाता है। इसके साथ ही सरकार ने मुस्लिम वर्ग की महिलाओं को यह भी दिलाशा दिलाई है कि सुप्रीम कॉर्ट में लम्बित तीन तलाक के मामले को मुस्लिम महिलाओ की राय पर प्रदेश सरकार अपना पक्ष रखेगी। यह योजना मुस्लिम महिलाओं के विकास के लिए बहुत बडा कदम है।

भाग्‍य लक्ष्‍मी योजना

इस योजना को यूपी में योगी नाथ जी द्वारा 2017 में लागू करने की घोषणा की गई।

  • प्रदेश की प्रत्‍येक गरीब परिवार में जन्‍म लेने वाली बेटी को 50,000 रुपये निर्धारित मानदंडों के अनुसार दिये जाएंगे।
  • बेटी के कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर 3000 रुपये की राशि कक्षा 8 में प्रवेश लेने पर 5000 रुपये
  • कक्षा 10 में प्रवेश पर 7000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती हैं।
  • कक्षा 12वीं में पहुचने पर 8000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • इसके साथ ही जब बेटी 21 वर्ष अर्थात विवाह योग्‍य हो जाती है तो
  • उसे 2 लाख रुपये की राशि प्रदान की जाती है।

योजना की अधिक जानकारी के लिए आप इसकी अधिकारिक साइट पर जाए।

विधवा महिलाओं के लिए योजना

इस योजना के तहत रानी लक्ष्‍मी बाई महिला एवं बाल सम्‍मान कोष के द्वारा विधवा महिलाओं को सहायता प्रदान की जाती है। इसके साथ ही वे महिलाएं जिनका आय का कोई स्‍त्रोत नही है या उनका पति शराबी हैं तो उन्‍हे भी इस योजना के तहत सहायता प्रदान की जाती है। इस योजना में महिला शरणालयों व बाल संरक्षण योजना में दिये जाने वाले भोजन की गुणवत्‍ता पर भी विशेष ध्‍यान दिया गया है।

अधिक जानकारी के लिए संबंधित विभाग में सम्‍पर्क करे।

यह भी पढें

One thought on “महिलाओं के लिए योजना – CM योगी की पांच योजनाएं (उत्‍तर प्रदेश)

  1. Pingback: Nrega Job Card List - मनरेगा जॉब कार्ड लिस्‍ट 2020, How To Check Online

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *