PM Awas Yojana – क्‍या हैं आवास योजना और किसे मिलेंगा लाभ

By | July 3, 2020

PM Awas Yojana – क्‍या हैं आवास योजना और किसे मिलेंगा लाभ, ग्रामीण आवास योजना, शहरी आवास योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, PM yojana

PM Awas Yojana
प्रधानमंत्री आवास योजना

PM Awas Yojana: यह योजना शुरूवात में ग्रामीण क्षेंत्र के लोगों को आवास प्रदान करने के लिए चलाई गई थी। लेकिन बाद में इस योजना को शहरी क्षेंत्र में भी लागू कर दिया गया।अब इस योजना का लाभ दोनों क्षेंत्रों के लागो को प्रदान किया जाता है। जिन लाेगो के पास पक्‍कें मकान नही हैं उन्‍हें घर बनाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती हैं। इस योजना का मुख्‍य उद्देश्‍य उन लोगों को घर दिलाना हैं जिनके पास रहनें के लिए घर नही हैं अर्थात झुग्‍गी झोंपडी में निवास करते हैं।

PM Awas Yojana

केन्‍द्र सरकार ने प्रत्‍येंक 1 राज्‍य के 305 नगरों व कस्‍बों को इस योजना के तहत लाभ देने के लिए चुना हैं।इस योजना का प्रारम्‍भ 25 जून 2015 को किया गया जिसका मुख्‍य उद्देंश्‍य 2022 तक सभी लोगो को घर मुहैया कराना हैं। PM Awas Yojana के तहत सरकार 20 लाख घरों का निर्माण करवाया जाएगा। जिसमें 18 लाख घर झुग्‍गी झोंपडी वाले इलाके में बनाना निर्धारित किया गया हैं, तथा 2 लाख घर गरीब शहरी इलाकों में बनाना निर्धारित किया गया हैं।  

इस योजना को 3 भागों में बांटा गया है

  • पहला भाग अप्रैल 2015 को शुरू किया गया था तथा इसे मार्च 2017 में समाप्‍त कर दिया गया।
  • इसके अन्‍तर्गत 100 से भी अधिक शहरों में घरों का निर्माण हुआ है।
  • दूसरा भाग अप्रैल 2017 से शुरू हुआ और मार्च 2019 में पूरा किया।
  • इस भाग में सरकार के द्वारा 200 से ज्‍यादा शहरों में मकान बनाने का लक्ष्‍य रखा था।
  • तीसरा भाग अप्रैल 2019 में शुरू किया तथा मार्च 2022 तक चलेगा।
  • तीसरे भाग में बचे हुए लक्ष्‍य को पूरा किया जाएगा।

PM Awas Yojana योजना की विशेषताएं

  • पीएम आवास योजना के तहत दी जाने वाली राशि व सब्सिडी सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में आएगी।
  • बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।
  • PM Awas Yojana के तहत जो पक्‍के मकान बनेंगे वों 25 वर्ग मीटर (270 फीट) के होंगे जो की पहले से बडा कर दिया गया है।
  • इसमें दी जाने वाली लाभ राशि केन्‍द्र व संबंधि राज्‍य सरकार द्वारा वहन की जाती है।
  • मैदानी क्षेत्र में इस राशि का अनुपात केन्‍द्र और राज्‍य में 60 : 40 तथा उत्‍तर पूूर्वी और हिमालय वाले तीन राज्‍य उत्‍तराखंड, जम्‍मू-कश्मिर व हिमाचल प्रदेश में इस राशि का अनुपात 90 : 10 है।
  • PM Awas Yojana को केन्‍द्र सरकार की स्‍वच्‍छ भारत योजना से भी जोडा गया है।
  • इसके तहत बनने वाले शौचालयों के लिए सरकार 12000 रुपये की लागत राशि प्रदान करती है।

PM Awas Yojana के अर्न्‍तगत लाभार्थी बिना ब्‍याज के 70,000 रुपये तक का लोन उठा सकता है जिसे दोबारा किस्‍तों में भरना होगा। शहरी क्षेत्रों में इस लोन के तहत बहुत कम ब्‍याज दरों पर 70,000 से अधिक राशि ले सकते हैं। इसमें लोन कैटेगिरी के हिसाब से दिया जाएगा। कैटेगिरी जैसे – LIG, HIG, MIG हैं।

कैसे लें आवास योजना का लाभ

इस योजना को पहले इंदिरा गांधी आवास योजना के नाम से जाना जाता था। सितम्‍बर 2016 से इसका नाम प्रधनमंत्री आवास योजना कर दिया गया है। इस योजना में पहले बीपीएल परिवार को 45 हजार रुपये दिये जाते थे। जिसे बढाकर अब 70 हजार रुपये कर दिया है। यह केन्‍द्र सरकार द्वारा संचालित योजना है। जिसकी वहन की गई राशि का अनुपात केन्‍द्र व सरकार के बीच 75 : 25 है। ग्रामीण क्षेत्र में इस योजना के तहत 45 हजार रुपये तथा संकट ग्रस्‍त क्षेत्रों में 48.5 हजार रुपये प्रदान किये जाते है। इस योजना का लाभ गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को मिलता है। यह राशि परिवार की किसी महिला के नाम पर दी जाती है। इसका लाभ अलग-अलग नगरों / प्रदेशों के अनुसार भिन्‍न – भिन्‍न होता है।

इसकी अधिक जानकारी के लिए PM Awas Yojana की अधिकारिक साइट पर जाए।

PM आवास योजना Official Site https://pmaymis.gov.in

यह भी पढें

10 thoughts on “PM Awas Yojana – क्‍या हैं आवास योजना और किसे मिलेंगा लाभ

  1. Pingback: Short Term Crop Loan Rajasthan - अल्‍पकालीन फसली ऋण सूचना कैसे देंखें

  2. Pingback: प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्‍ट 2020 - ऐसे देंखे सूची में अपना नाम, PM Awas yojंa

  3. Pingback: किसान क्रेडिट कार्ड - किसानो काे मिलेगा लोन, किसान क्रेडिट कार्ड - किसानो काे मिलेगा

  4. Freebies

    According to my research, after a property foreclosure home is sold at a sale, it is common for that borrower to still have the remaining balance on the loan. There are many loan merchants who make an effort to have all costs and liens paid by the next buyer. However, depending on specific programs, polices, and state legislation there may be a few loans that are not easily settled through the shift of lending options. Therefore, the responsibility still remains on the borrower that has acquired his or her property in foreclosure process. Thanks for sharing your thinking on this blog site.

    Reply
  5. Free Stuff

    With havin so much content do you ever run into any problems of plagorism or copyright infringement? My site has a lot of unique content I’ve either created myself or outsourced but it seems a lot of it is popping it up all over the web without my agreement. Do you know any methods to help protect against content from being ripped off? I’d certainly appreciate it.

    Reply
  6. Pingback: Sarkari Yojana List - सरकार द्वारा चलाई गई योजनाए, PM Yojana List 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *