मुख्‍यमंत्री कृषक साथी योजना – Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana 2021

By | April 6, 2021

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana 2021 – मुख्‍यमंत्री कृषक साथी योजना, Rajasthan Kisan yojana, किसानो को मिलेगा लाभ, आवेदन प्रक्रिया

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana

देंश में व देंश के सभी राज्‍यों में किसानो के लिए बहुत सारी योजनाओ की शुरूआत की गई हैं जिसका लाभ सीधें किसानो को दिया जाता हैं। हाल ही में हुई बजट घोंषणा में राजस्‍थान के सीएम ने प्रदेंश के सभी किसानो के लिए एक योजना की घोंषणा की। जिसे ”मुख्‍यमंत्री कृषक साथी योजना” के नाम से जाना जाएगा। इस योजना के माध्‍यम से किसानो को लाभ प्रदान किया जाएगा। यह एक तरह की किसान बीमा योजना हैं। आजकल सभी काम जोखिम भरे हो गए हैं। किसानो को खेती करने में अनेक समस्‍याओं का सामना करना पडता हैं। सभी कार्य लगभग मशीनो के द्वारा किए जाते हैं। जिससे किसानो की दुर्घटना होने की संभावना अधिक हाे गई हैं। किसानो की सहायता के लिए सरकार ने इस योजना की शुरूआत की हैं।

इस योजना के तहत किसानो को कितना लाभ मिलेगा व कैंसे मिलेंगा इसके बारे में हम आपको इस आर्टिकल में बताएगे।

मुख्‍यमंत्री कृषक साथी योजना

इस योजना की शुरूआत राजस्‍थान सरकार ने प्रदेंश के सभी किसान भाईयों के लिए की हैं ताकि उन्‍हें लाभ दिया जा सके। उनकी समस्‍याओ को ध्‍यान में रखते हुए इस योजना की शुरूआत की गई हैं। यह योजना एक प्रकार से बीमा योजना हैं। जिसमें किसानो को कोई दुर्घटना होने पर लाभ प्रदान किया जाता है। इस योजना को पहले ” राजीव गाँधी कृषक साथी योजना” के नाम से जाना जाता था। लेकिन अब इसका नाम बदलकर ”मुख्‍यमंत्री कृषक साथी योजना” कर दिया गया हैं। इसके तहत किसानो को दुर्घटना होने पर 5000 से लेकर 200000 लाख रूपए तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती हैं। यह राशि दुर्घटना की अलग -अलग स्थिति के हिसाब से अलग – अलग दी जाती हैं। इस योजना के लिए सरकार बजट में 2000 करोड रूपए की घोंषणा की हैं।

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana

इसका लाभ केवल उन्‍ही किसानो को दिया जाएगा जोकि इसके लिए आवेदन करेगे।

किन परिस्थितियो में मिलेगा लाभ

आपको यह जानना जरूरी हैं कि इस योजना का लाभ किन – किन परिस्थितियो में दिया जाएगा। इसका लाभ लेने के लिए कौंन कौंन पात्र होगे:-

  • किसान खेत में पानी देते समय या फिर कोई अन्‍य काम करते समय उसके साथ कोई दुर्घटना हो जाती हैं तो उसे इसका लाभ दिया जाएगा।
  • दुर्घटना में बिजली करंट, किसी जहरीले जानवर के काटने पर मृत्‍यु या फिर अंग को क्षति पहुँचने पर इसका लाभ दिया जाएगा।
  • आकाशीय बिजली गिरने से होने वाली दुर्घटना को भी इसमें शामिल किया जाएगा।
  • यदि किसान किसी साधन ट्रैंक्‍टर या बैंलगाडी जाे भी हो उससे खेत के काम के लिए जाता हैं
  • तो उससे होने वाली दुर्घटना को भी शामिल किया जाएगा।
  • किसान अपनी फसल को बेचने मंडी जाता हैं यदि वहा जाते या आते समय कोई घटना होती हैं तो उसके लिए भी लाभ दिया जाएगा।
  • मंडी में बोरी उठाते समय कोई दुर्घटना होती हैं या अंग भंग होता हैं तो योजना के तहत लाभ मिलेगा।
  • खेत में रासायनिक दवाईयों का छिडकाव करते समय मृत्‍यु होने पर।
  • ट्यूबवल या कुआ खोदते समय बिजनी करंट या खेत से गुजरने वाली बिजली लाईन से मुत्‍यु होन पर।
  • कृषि सुरक्षा या पशु चराई के लिए पेड छगाई करते समय दुर्घटना होने पर।
  • दुर्घटना होन के 6 माह होने के बाद आवेदन करने पर इसका लाभ नही दिया जाएगा।

इस योजना में 14 वर्ष से कम उम्र के बच्‍चो को व 75 वर्ष से अधिक उम्र के व्‍यक्ति को शामिल नही किया जाएगा।

योजना की संपूर्ण जानकारी के लिए आप इस पीडीएफ( PDF) को देख सकते हैं।

योजना के तहत मिलने वाली आर्थिक सहायता

परिस्थितिआर्थिक सहायता
मृत्यु₹200000
2 अंगों में विकलांगता (या तो 2 हाथ या 2 पैर या 2 आंख या 1 हाथ और 1 पैर)₹50000
रीड की हड्डी का टूटना, सिर की चोट के कारण कोमा में जाना₹50000
पुरुष या महिला के सिर के पूरे हिस्से के बालों की डी स्कैल्पइंग₹40000
पुरुष या महिला के सर के कुछ हिस्से के बालों की डी स्कैल्पइंग₹25000
1 अंग में विकलांगता ( या हाथ या पैर या आंख या टखना)₹25000
यदि 4 उंगलियां कट जाती हैं₹20000
यदि 3 उंगलियां कट जाती हैं₹15000
यदि 2 उंगलियां कट जाती है₹10000
यदि 1 उंगली कट जाती है₹5000
दुर्घटना के कारण फ्रैक्चर5000

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana के लिए पात्रता

इस योजना का लाभ उन्‍हें ही मिलेगा जो कि नीचे बताई गई पात्रता को पूरा करेगा :-

  • आवेदक राजस्‍थान का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक किसान होना चाहिए जिसका प्रमाण भी होना जरूरी हैं।
  • दुर्घटना भी खेती का काम करते समय होने पर ही इसके लिए पात्र होगे।
  • आवेदक के पास दुर्घटना से संबंधित सभी दस्‍तावेंज होने जरूरी हैं।

मुख्‍यमंत्री कृषक साथी योजना के लिए जरूरी दस्‍तावेंज

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको आवेदन करते समय निम्‍न दस्‍तावेंजो की आवश्‍यकता होगी:-

  • हादसे की FIR या क्षेत्रीय अधिकारी द्वारा बनाई गई हल्का-रिपोर्ट
  • दुर्घटना के समय उपचार के सभी चिकित्‍सा कागजात
  • किसान की मृत्‍यु होने पर उसकी पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट
  • दुर्घटना होने वाले किसान की फोटो
  • उसका पहचान पत्र
  • जमीन के कागज
  • परिवार कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana आवेदन प्रक्रिया

हम सभी जानते हैं कि किसी भी योजना का लाभ लेने के लिए हमें आवेदन करना होता हैं। ऐसे ही हमें इसके लिए भी आवेदन करना होगा। इसका आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले आपके जिले के कृषि विभाग में जाना होगा। वहा जाकर आपको ” मुख्‍यमंत्री कृषक साथी योजना” का आवेदन फॉर्म लेना होगा। उसके बाद आपको उसे भरना हैं ध्‍यान रहे आवेदन फॉर्म को सावधानी पुर्वक भरे ताकि उसमें कोई गलती ना हो। उसमे पूछी गई सभी जानकारी जैंसे आवेदक का नाम, मोबाईल नंबर, स्‍थायी पता व अन्‍य सभी पूछी गई जानकारी भरनी हैं। उसमें मांगे गए सभी दस्‍तावेंज लगाने हैं। आवेदन फॉर्म पूरा भरने के बाद आपको उसे कृषि विभाग में जमा कराना होगा।

इस प्रकार आपका आवेदन फॉर्म पूरा हो जाएगा।

किसान फसल पर ले सकेगे 1.50 से 3 लाख तक का ऋण (Rajasthan)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *