Advertisement

जय भीम मुख्‍यमंत्री प्रतिभा विकास योजना – Free Coaching Yojana

Advertisement

जय भीम मुख्‍यमंत्री प्रतिभा विकास योजना – Free Coaching Yojana 2021, ST/ SC Free Coaching dheli, 2500 रूपए मिलेगी छात्रवृति

Free Coaching Yojana 2021

जय भीम मुख्‍यमंत्री प्रतिभा विकास योजना :  यह योजना बच्‍चों के सपनो को साकार करने के लिए चलाई गई हैं। सरकार पढाई के लिए बहुत सी योजनाए चलाती रहती हैं। शिक्षा के स्‍तर को सुधारनें के लिए सरकार हर संभव प्रयास करती हैं। बहुत से ऐसे विद्यार्थी हैं जो कि अपनी पढाई पूरी कर लेते हैं लेकिन वो आर्थिक कारणों सेअपनी उच्‍च लेवल की परीक्षाओं की तैंयारी नही कर पाते हैं। इसलिए दिल्‍ली सरकार ने ऐसे विद्यार्थियों के लिए इस योजना की शुरूआत की हैं। इस योजना के तहत आवेदन करके फ्री कोचिंग सुविधा का लाभ ले सकेगे। इस योजना के तहत कोचिंग करने पर पूरा खर्चा दिल्‍ली सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

Advertisement

इस योजना का लाभ कैंसे व किस – किसको मिलेंगा ये सब हम इस पोस्‍ट के माध्‍यम से जानेगे।

जय भीम मुख्‍यमंत्री प्रतिभा विकास योजना

इस योजना में अनुसूचित जाति व जनजाति के बच्‍चाें को ही शामिल किया जाएगा।

योजना के तहत सरकार फ्री कोंचिग कराएगी साथ ही प्रतिमाह विद्यार्थियों को 2500 रूपए छात्रवृति के रूप में दिए जाएगे। इस योजना में उन विद्यार्थियों को शामिल किया जाएगा जिन्‍होंने दिल्‍ली विद्यालयों से 10वीं व 12वीं अच्‍छें अंको से पास की हैं। इस योजना का लाभ एक विद्यार्थी केवल दो बार ही ले सकता हैं। दूसरी बार लाभ लेने पर सरकार लाभ का 50 प्रतिशत हिस्‍सा देंगी। जिन लाभार्थियों के परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रूपए से कम हैं उनका पूरा खर्च दिल्‍ली सरकार वहन करेगी। तथा जिनके परिवार की वार्षिक आय 2 से 6 लाख रूपए के बीच हैं उनके खर्च का 75 प्रतिशत हिस्‍सा ही सरकार द्वारा वहन किया जाएगा बाकि खर्च विद्यार्थी को वहन करना होगा। यदि बिना किसी ठोस कारण का विद्यार्थी 15 दिन अनुपस्थित रहता हैं तो उसे अपात्र माना जाएगा।

Advertisement
Free Coaching Yojana

इस योजना का उद्देंश्‍य क्‍या हैं व इसके लिए आवेदन कैंसे करे ये जानने के लिए आप नीचे तक पढें।

योजना का उद्देंश्‍य

इस योजना को शुरू करने के पीछें सरकार का एक ही उद्देंश्‍य हैं कि SC / ST वर्ग  वो बच्‍चें जिनकी आर्थिक स्थिति खराब हैं उन्‍हें उँचे पद की तैयारी के लिए फ्री कोंचिग प्रदान करना। क्‍योंकि पैंसे के अभाव में ऐसे बच्‍चें पढाई में होशियार होने पर भी वो मेडिकल, इंजीनियर, आएएस, आईपीएस जैंसी परीक्षाओं की तैंयारी नही कर पाते हैं। क्‍योंकि इन परिक्षाओं की तैंयारी के लिए निजी संस्‍थानो की फीस बहुत अधिक होती हैं जिससे वो फीस देने में असमर्थ होते हैं और अपनी तैंयारी नही कर पाते। यानि सीधी तरह कहें तो वो अपने सपनो को छोडकर कोई और रास्‍ता चुन लेते हैं। इसलिए सरकार ने ऐसे लोगो को फ्री कोंचिग कराने की योजना चलाई हैं।

इस प्रकार इस योजना का उद्देंश्‍य असमर्थ बच्‍चों को तैंयारी के लिए सहायता प्रदान करना हैं।

Advertisement

जय भीम मुख्‍यमंत्री प्रतिभा विकास योजना दस्‍तावेंज

इसके लिए आवेदन करते समय आवेदक को निम्‍न दस्‍तावेंजो की आवश्‍यकता होगी:-

  • मूलनिवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • 10वीं व 12वी की अंकतालिका
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Free Coaching Yojana आवेदन प्रक्रिया

जो भी इस योजना से संबंधित पात्रताओं को पूरा करते हैं और इसका लाभ लेना चाहते हैं तो हमारे बताए अनुसार आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आवेदन आफलाइन व ऑनलाइन दोनो प्रकार से कर सकते हैं।

  • यदि आप इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करना चा‍हते हैं तो आपको विभाग की अधिकारिक साइट पर जाना होगा।
  • यहा से आप योजना को आवेदन फार्म डाउनलोड कर सकते हैं।
  • आपको इस फॉर्म को सावधानीपूर्वक भरना होगा।
  • इसमें पूछी गई सभी जानकारी जैंसे नाम, पता, मोबाइल नम्‍बर, आधार कार्ड ये सभी भरना हैं।
  • आवेदन फॉर्म पूरा भरने के बाद आपको Submit के Option पर क्लिक करना हैं।
  • इस प्रकार आपका रजिस्ट्रेंशन पूरा हो जाएगा।

य‍दि आप ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हें तो आपको जहां आप कोचिंग करना चाहते हैं वहा से आवेदन फॉर्म प्राप्‍त कर सकते हैं। आवेदन फॉर्म को भरकर उसमें मांगे गए सभी दस्‍तावेंज लगाकर उसी कोचिंग सेन्‍टर पर जमा कराना होगा। आपकी परीक्षा ली जाएगी यदि आप कोचिंग द्वारा ली गई परीक्षा को पास कर लेते हैं तो आपको जय भीम मुख्‍यमंत्री प्रतिभा विकास योजना का लाभ दिया जाएगा।

इसकी अधिक जानकारी के लिए संबंधित विभाग में संपर्क करे।

Gyan Sankalp Portal Rajasthan

Nrega Job Card List 2020

1 thought on “जय भीम मुख्‍यमंत्री प्रतिभा विकास योजना – Free Coaching Yojana”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *