Anuprati Yojana Rajasthan – अनुप्रति योजना में लाभार्थी को मिलेगे 1 लाख रूपए

By | October 25, 2020

Anuprati Yojana Rajasthan – अनुप्रति योजना में लाभार्थी को मिलेगे 1 लाख रूपए, Anuprati yojana online Apply, राजस्‍थान योजना

Anuprati Yojana Rajasthan

अनुप्रति योजना

प्‍यारे साथियों जैंसा कि आप सभी जानते हैं कि  सरकार युवाओं के लिए कई प्रोत्‍साहन योजनाए चलाती हैं। जिसके माध्‍यम से युवाओं को प्रोत्‍साहित किया जाता हैं। ऐसी ही एक योजना की हम बात करेगे जिसके तहत युवाओं को लाभ प्रदान किया जाएगा। इस योजना का नाम हैं ” अनुप्रति योजना” इस योजना के तहत अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति/ विशेंष वर्ग ,पिछडा वर्ग के युवाओं को लाभान्वित किया जाएगा। सरकार ऐसी योजनाओं के माध्‍यम से जो युवा बेरोजगार अपनी तैंयारी कर रहे हैं उन्‍हें प्रोत्‍साहित करती हैं।

आज हम आप‍को इस पोस्‍ट के माध्‍यम से इस योजना के बारे में बताएगे।

Anuprati Yojana Rajasthan

यह एक ऐसी योजना हैं जिसके तहत लाभार्थी को प्रोत्‍साहित किया जाता हैं। इस योजना में उन्‍हें लाभान्वित किया जाता हैं जो SC/ST व अन्‍य पिछडा वर्ग में शामिल हैं व इसके अलावा सामान्‍य वर्ग के बीपीएल परिवार से संबंधित हैं तथा उन्‍होंने सरकार द्वारा निर्धारित परीक्षा का चरण पास कर लिया हो। इस योजना के तहत अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा के निर्धारित चरण को पास करने पर SC/ ST व अन्‍य पिछडा वर्ग के सदस्‍यों को 1 लाख रूपए की प्रोत्‍साहन राशि प्रदान की जाएगी। इसके अलावा राजस्‍थान सरकार द्वारा आयोजित की जाने वाली इंजीनियरिंग, मेडिकल प्रवेंश परीक्षा (RPMT/ RPET) राजकीय मेडिकल कॉलेज में प्रचेंश लेने पर लाभार्थी को 10,000 रूपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

इस योजना की और अधिक जानकारी के लिए आप आर्टिकल को नीचे तक पढें।

अनुप्रति योजना के उद्देंश्‍य

  • इस योजना के तहत उन विद्यार्थियों को लाभ पहुँचाया जाएगा जिन्‍होने निर्धारित परीक्षा को पास कर लिया हैं।
  • क्‍योकि ऐसे कई वर्ग के बच्‍चे हैं जो प्री परीक्षा पास कर लेते हैं लेकिन वो आर्थिक कारणो से आगे की तैंयारी करने में असमर्थ रहते हैं।
  • उन असमर्थ बच्‍चों को आर्थिक सहायता प्रदान कर उन्‍हें आगे की तैंयारी के लिए प्रोत्‍साहित करना।
  • अब गरीब परिवार के बच्‍चें भी इस योजना का लाभ लेते हुए सिविल सेवा की तैंयारी कर सकेगे।
  • जिससे वो अपने सपनो को साकार कर सकेगे।
  • आर्थिक कारणों का निवारण करते हुए उन बच्‍चों को पढाई के लिए प्रेात्‍साहित करना ही इस योजना का मुख्‍य उद्देंश्‍य हैं।

हम यहा आपको बताएगे कि इस योजना के तहत कैंसे – कैंसे लाभ प्रदान किया जाएगा।

योजना में दी जाने वाली प्रोत्‍साहन राशि

अखिल भारतीय सेवा परीक्षा पास करने पर देय राशि

परीक्षा चरणदेय राशि
प्रारम्भिक परीक्षा में पास होने पर65000 रूपए
मुख्‍य परीक्षा में पास होने पर30,000 रूपए
साक्षात्‍कार में पास होने पर5000रूपए
कुल देंय राशि1,00000 रूपए

राजस्‍थान लोकसेवा आयोग की परीक्षा पास करने पर देय राशि

परीक्षा चरणदेय राशि
प्रारम्भिक परीक्षा पास करने पर25000 रूपए
मुख्‍य परीक्षा पास होने पर20000 रूपए
साक्षात्‍कार में पास होने पर5000 रूपए
कुल देंय राशि50,000 रूपए

Anuprati Yojana Rajasthan पात्रता

  • आवेदनकर्ता राजस्‍थान का मूलनिवासी होना चाहिए।
  • आवेदन करते समय आवेदक RPSC द्वारा आयोजित राज्‍य या अ‍धाीनस्‍थ सेवा में कार्यरत नही होना चाहिए।
  • लाभार्थी के परिवार के वार्षिक आय 2 लाख रूपए से अधिक नही होनी चाहिए।
  • आवेदन करते समय आवेदक ने निर्धारित परीक्षा का चरण पास कर लिया हो।
  • लाभार्थी निर्धारित वर्ग (ST/SC/ अन्‍य पिछडा वर्ग) से संबंधित होना चाहिए।
  • योजना का लाभ लेने के लिए राज्‍य के किसी इंजीनियंरिग कॉलेज में प्रवेंश के लिए 12 वीं कक्षा में कम से कम 60% अंक जरूरी हैं।

जरूरी दस्‍तावेंज

  • आय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • मूलनिवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बीपीएल प्रमाण पत्र
  • प्रतियोगी परीक्षा में पास होने का प्रमाण पत्र
  • प्रवेंश परीक्षा में पास होने व कॉलेज में प्रवेंश लेने का प्रमाण
  • शपथ पत्र
  • पासपोर्ट साइज् फोटो
  • मोबाइल नंबर

लगाए गए सभी दस्‍तावेंज सक्षम अधिकारी द्वारा सत्‍यापित होने चाहिए।

Anuprati Yojana Rajasthan आवेदन प्रकिया

इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म को सावधानीपूर्वक भरना हैं। उसके साथ मांगे गए सभी दस्‍तावेंज लगाने हैं। पूरी प्रक्रिया होने पर उसे अपने ग्रह जिले के विभागीय जिला अधिकारी को जमा कराना होगा।

Rajasthan Jan Aadhar Card YojanaClick
मजदूर श्रमिक कार्ड योजना लिस्‍टClick
गरीबों के लिए अनुग्रह राशि भुगतान योजना राजस्‍थान 1000 RsClick
पालनहार योजना राजस्थान 2020Click

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *